Home Featured बेंगलुरु के बस कंडक्टर ने पास की UPSC की परीक्षा जाने कैसे की त्यारी !

बेंगलुरु के बस कंडक्टर ने पास की UPSC की परीक्षा जाने कैसे की त्यारी !

0
बेंगलुरु के बस कंडक्टर ने पास की UPSC की परीक्षा जाने कैसे की त्यारी !

bangalore bus conductor clear upsc in hindi

बेंगलुरु मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन के एक बस कंडक्टर मधु एनसी ने आठ घंटे की नौकरी के साथ ही यूपीएससी की प्री और मेन्स परीक्षा पास कर ली है. मधु ने ये परीक्षा बिना कोचिंग के पास की है. अब 25 मार्च को यूपीएससी का इंटरव्यू देने जा रहे हैं.

29 साल के मधु ने पिछले साल प्रिलिंम्स पास किया था और इस महीने यूपीएससी मेंस में अपना नाम देखकर उनकी खुशी का ठिकाना नहीं है. मधु के परिवार में एक भाई, भाभी और माता-पिता हैं. अपने परिवार में मधु ही इकलौते शख्स हैं, जिसने स्कूल जाकर पढ़ाई की है.

मांड्या जिले के मूल निवासी मधु 19 साल की उम्र से कंडक्टर का काम कर रहे हैं. उन्होंने डिस्टेन्स लर्निंग से बैचलर्स और मास्टर की डिग्री भी हासिल की है.

यूपीएससी की तैयारी का सफर मधु के लिए आसान नहीं था. रोज आठ घंटे कंडक्टर का कम करते और फिर बचे हुए वक्त में परीक्षा की तैयारी करते थे. मधु ने पॉलिटिकल साइंस, इंटरनेशनल रिलेशन्स, एथिक्स, लैंग्वेज में जमकर पढ़ाई की. उन्होंने मेन्स में ऑप्शनल सब्जेक्ट के रूप में पॉलिटिकल साइंस और इंटरनैशनल रिलेशन्स को चुना. मधु ने प्रीलिंम्स तो कन्नड़ में दी थी लेकिन मेन्स उन्होंने इंग्लिश में लिखा.

 मिरर से बात करते हुए मधु ने बताया

मैं हमेशा से अपनी जिंदगी में कुछ बड़ा करना चाहता था. अपने परिवार की मदद के लिए मैंने जल्दी काम करना शुरू कर दिया था, लेकिन मैंने पढ़ाई नहीं छोड़ी. मैं रोज 5 घंटे पढ़ाई करता था. मेरे सब्जेक्ट पॉलिटिकल साइंस, एथिक्स और मैथ्स और साइंस थे. मैं काम से पहले और बाद में रोज पढ़ाई करता था.मैं रोज सुबह 4 बजे उठता था, जिसमें मैं काम पर जाने से पहले पढ़ाई कर सकूं.

साल 2014 में कर्नाटक प्रशासनिक सेवा के लिए परीक्षा दी थी, लेकिन उसे मधु क्लियर नहीं कर पाए थे. साल 2018 में पहली बार UPSC सिविल सेवा में भी मधु को सफलता नहीं मिल सकी थी, लेकिन इस बार मधु की मेहनत रंग लाई है. अब मधु इंटरव्यू की तैयारी करने में जुटे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here