Home Lifestyle Business Omg! bharat ke हेल्थ रिसर्च बजट se bhi ज्यादा hai सुंदर पिचाई ki सैलरी, जानिए साल भर ki कमाई

Omg! bharat ke हेल्थ रिसर्च बजट se bhi ज्यादा hai सुंदर पिचाई ki सैलरी, जानिए साल भर ki कमाई

0
Omg! bharat ke हेल्थ रिसर्च बजट se bhi ज्यादा hai सुंदर पिचाई ki सैलरी, जानिए साल भर ki कमाई

Omg! bharat ke हेल्थ रिसर्च बजट se bhi ज्यादा hai सुंदर पिचाई ki सैलरी, जानिए साल भर ki कमाई

bharat सहित दुनियाभर mein बहुत kam hi लोग ऐसे होंगे jo सुंदर पिचाई ko nahi जानते होंगे। Bharatiy मूल ke सुंदर पिचाई दुनिया ke sabse बड़े सर्च इंजन गूगल aur उसकी पैरेंटल कंपनी अल्फाबेट ke bhi सीईओ hain. सुंदर पिचाई ke सितारे इन दिनों बुलंदियों par hain, वह सफलता ki जिस ऊंचाई par hain वहां पहुंचने ka सपना हर koi देखता hain. हाल hi mein अल्फाबेट इंक ne उनकी सालाना आमदनी ka खुलासा kiya jise सुन kisi ke bhi होश फाख्ता ho जाएं।

सुंदर पिचाई साल दर साल नई बुलंदियों ko छू रहे hain, जिसमें वह कामयाबी ki नई कहानी गढ़ रहे hain. aap ko जानकर आश्चर्य hoga ki सुंदर पिचाई दुनिया mein sabse ज्यादा सैलरी लेने वाले सीईओ hain. बीते दिनों ek नियामक फाइलिंग mein अल्फाबेट इंक ne खुलासा kiya hai ki कंपनी se सीईओ सुंदर पिचाई ko 2019 mein कुल 28.1 करोड़ डॉलर यानी 2,144.53 करोड़ रुपये ki सैलरी मिली jo दुनिया mein kisi bhi सीईओ द्वारा पाई जाने वाली sabse ज्यादा तनख्वाह hain.

स्वास्थ्य रिसर्च बजट se bhi ज्यादा सुंदर ki सैलरी

हैरानी ki baat to yeh hai ki जितनी सैलरी सुंदर पिचाई गुगल aur अल्फाबेट se ले रहे hain उतना to bharat सरकार सालाना स्वास्थ्य रिसर्च par bhi खर्च nahi करती hain. bharat सरकार ne साल 2020-21 mein स्वास्थ्य रिसर्च par खर्च hone ke liye कुल 2122 करोड़ रुपए ka बजट पास kiya hain. इसमें se 85 फीसदी इंडियन कॉन्सिल off मेडिकल रिसर्च (icmr) ko दिए gye hain.

Dollar Money Currency Banknote  - emkanicepic / Pixabay
emkanicepic / Pixabay

आपकी जानकारी ke liye bata de ki bharat mein icmr hi कैंसर, हर्ट अटैक, डायबिटीज समेत सभी बीमारियों par रिसर्च करती hain. इसके अलावा कोरोना वायरस ki वैक्सीन बनाने mein bhi यही संस्था जुटी huyi hain. अल्फाबेट ne बताया ki is वर्ष सुंदर पिचाई ki सैलरी mein 20 लाख डॉलर ka इजाफा kiya जाएगा jo Bharatiy रुपयों mein 15.26 करोड़ रुपए hota hain.

Bharatiy मूल ke सुंदर पिचाई ki सैलरी अल्फाबेट कर्मचारियों ke औसत कुल आमदनी se 1085 गुना ज्यादा hain. पिचाई ki सैलरी ka बहुत बड़ा hissa स्टॉक hai jo is baat par निर्भर करता hai ki एस एंड पी 100 इंडेक्स mein दूसरी कंपनियों ke मुकाबले अल्फाबेट स्टॉक par kya रिटर्न मिलता hain. bata de ki सुंदर पिचाई ko पिछले साल hi गूगल ke सीईओ se प्रमोट kar उसकी पैरेंटल कंपनी अल्फाबेट ka सीईओ बनाया gya था।

सुन्दर पिचाई ne गूगल सीईओ ka पद 2 अक्टूबर, 2015 mein संभाला tha aur 3 दिसंबर, 2019 ko वह अल्फाबेट ke सीईओ बन गए। सुंदर पिचाई ka जन्म bharat mein तमिलनाडु ke मदुरै mein 10 जून 1972 ko hua था। उन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई चेन्नई पूरी ki aur बाद mein आईआईटी खड़गपुर se इंजीनियरिंग की। गूगल ke सीईओ बनने se pahle सुंदर पिचाई ko Microsoft, याहू aur ट्विटर se bhi सीईओ पद ka ऑफर मिला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here