Home Lifestyle Health & Fitness सर्दियों में चुकन्दर के अद्भुत फायदे : Chukandar/Beetroot ke fayde in hindi

सर्दियों में चुकन्दर के अद्भुत फायदे : Chukandar/Beetroot ke fayde in hindi

0
सर्दियों में चुकन्दर के अद्भुत फायदे : Chukandar/Beetroot ke fayde in hindi

 Chukandar/Beetroot ke fayde in hindi

स्वस्थ जीवन शैली को बनाए रखने के लिए  फल और सब्जियां खाना हमेशा अच्छा होता है। इनसे आपको सभी आवश्यक पोषक तत्व प्राप्त होते  हैं जो आपके शरीर के सेहतमंद बनाए रखते है ।

Beetroot या चुकंदर लोकप्रिय जड़-सब्जियों में से एक है जिसे आपको अपने आहार में अवश्य शामिल करना चाहिए। चुकंदर न सिर्फ सौन्दर्य दृष्टि से फायदेमंद है बल्कि ये स्वास्थ्यवर्द्धक भी है। चुकंदर देखने में छोटा सा बैंगनी रंग का शलगम जैसा  होता है लेकिन चुकंदर के फायदे  (chukandar ke fayde) अनगिनत होते हैं चुकंदर का यह रंग एक पौधे के यौगिक-बेटानिन से आता है।

मूल रूप से चुकंदर की खेती सबसे पहले रोमनों ने की थी 19वीं शताब्दी तक ।   चुकंदर में अन्य सब्जियों की तुलना में अधिक मात्रा में चीनी होती है।   चुकंदर की पत्तियाँ और जड़ें दोनों खाने योग्य होती हैं।   चुकंदर को भूनकर, स्टीम करके, अचार बनाकर और जूस बनाकर इसका सेवन किया जा सकता है। विभिन्न प्रकार के चुकंदर मौजूद होते हैं जैसे सफेद, गुलाबी, पीला और गहरा बैंगनी। कई आहार विशेषज्ञ और डॉक्टर चुकंदर को विटामिन और खनिजों से भरपूर होने के कारण बढ़ावा देते हैं।

चुकंदर की जड़ मीठी और ठंडे तासीर की होती है यह  कफ निकालने वाली, कमजोरी दूर करने वाली, हिमोग्लोबीन की संख्या बढ़ाने वाली होती है। चुकंदर के पत्ते के सेवन से मूत्र संबंधी विकार , कब्ज , सूजन, सिरदर्द, लकवा तथा कानदर्द से राहत  मिलती है। इसके बीज सेक्स की इच्छा बढ़ाने में मदद करते हैं। (beetroot benefits in hindi)

चुकंदर के पोषण संबंधी तथ्य:

लाल रंग का सुंदर लाल चुकंदर कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है जो हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होगा। चुकंदर विटामिन ए, विटामिन सी, कैल्शियम, फाइबर, आयरन, फोलेट से भरपूर होता है और इसमें कम कैलोरी होती है। ये  पोटेशियम, मैंगनीज और एंटीऑक्सिडेंट से  भी भरपूर होते  हैं।

Benefits of Chukandar or Beetroot in Hindi : चुकंदर के स्वास्थ्य लाभ: Chukandar ke fayde 

1: रक्तचाप को नियंत्रित करने में लाभदायक : Control Blood Pressure

चुकंदर नाइट्रिक ऑक्साइड से भरपूर होता है  जो आपकी रक्त वाहिकाओं को आराम देता है और रक्त प्रवाह में सुधार करता है। इसलिए, यह रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। कई अध्ययनों ने नाइट्रिक ऑक्साइड की उपस्थिति के कारण चुकंदर के इस लाभ को साबित किया है। 200-250 मिलीलीटर चुकंदर के रस का सेवन या 80-100 ग्राम चुकंदर को सलाद में मिलाकर इस्तेमाल करने से  उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद मिल सकती है। हालांकि चुकंदर का असर करीब छह घंटे तक ही रहेगा। इसलिए, चुकंदर केवल अस्थायी रूप से रक्तचाप को संतुलित करने में मदद करता है, और इसका नियमित सेवन फायदेमंद हो सकता है।

2: पाचन स्वास्थ्य (Digestion) में सुधार करता  है:

चुकंदर फाइबर और अमीनो एसिड के सबसे अच्छे  स्रोतों में से एक है जो अपच में मदद करने के लिए आवश्यक हैं। ये लीवर को मजबूती प्रदान कर खाने को पचाने में सहयोग करता है।  यह आपके मल त्याग को  नियमित करने में मदद करता है और कब्ज से राहत दे सकता है। चुकंदर आंत के अनुकूल होता है, जो मल त्याग में सहायता करता  है और कई पुरानी बीमारियों के जोखिम को कम करने में मदद करता है।

3: ब्लड शुगर (blood sugar) को नियंत्रित कर सकता है:

चुकंदर में अल्फा-लिपोइक एसिड नामक एक एंटीऑक्सिडेंट होता है जो रक्त शर्करा के स्तर को संतुलित करने में मदद कर सकता है। 2019 में, समीक्षा अध्ययनों से पता चला है कि अल्फा-लिपोइक एसिड मौखिक या अंतःशिरा रूप से दिए जाने पर रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करता है।

4: एनीमिया (anemia) को रोकने में मदद:

चुकंदर का रंग ही आपके हीमोग्लोबिन के स्तर को सही करने के लिए इसके महत्व को बताता है। चुकंदर में भरपूर मात्रा में आयरन और फोलिक एसिड होता है। यह सामान्य लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मदद करता है। चुकंदर का रस नियमित रूप से पीने से हीमोग्लोबिन की मात्रा में सुधार होता है और मासिक धर्म संबंधी विकारों को रोकता है।

5: हृदय को स्वस्थ रखने में चुकंदर के फायदे (Healthy Heart)

चुकंदर का सेवन करना आपको हृदय संबंधी समस्या से बचा सकता है, क्योंकि चुकंदर में पाये जाने वाले विटामिन्स और मिनरल्स ह्रदय को नियमित रूप से कार्य करने में सहायक होते है। चुकंदर का  जूस  बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है और गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ाने में मदद करता है जो हृदय को स्वस्थ रखता है ।

6: सूजन (inflammation) से लड़ने में मदद करें:

चुकंदर में एक वर्णक-बेटेनिन होता है जो इसके रंग के लिए जिम्मेदार होता है। बीटानिन में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। कुछ जानवरों के अध्ययन से पता चलता है कि चुकंदर का रस गुर्दे की सूजन को प्रभावी ढंग से कम करता है। हालांकि, इस सिद्धांत की पुष्टि के लिए मनुष्यों में और शोध की आवश्यकता है।

7: दिमागी शक्ति में सुधार हो करता  है:

चुकंदर मस्तिष्क में रक्त की आपूर्ति को बढ़ाने में मदद करता है। यह संज्ञानात्मक कार्यों और एकाग्रता में सुधार करने में मदद करता है। चुकंदर में मौजूद नाइट्रिक ऑक्साइड मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह को सामान्य बनाए रखने में मदद करता है।

8: डीटोक्सिंग (Detoxing) में मदद:

चुकंदर एक प्राकृतिक डिटॉक्सिफायर है जो आपके शरीर को साफ और विषाक्त मुक्त बनाने में मदद करता है। चुकंदर के तत्व रक्त, त्वचा और यकृत को शुद्ध करने में मदद करते हैं। यह शरीर के सामान्य कार्य को बढ़ाता है। इसलिए अपने मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने के लिए चुकंदर एक बेहतरीन विकल्प है।

9:कैंसर को रोकने में सहायक  (prevents Cancer)

चुकंदर का सेवन (chukandar khane ke fayde)  कैंसर से बचाने में सहायक होता है, क्योंकि इसमें पाये जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट कैंसर से बचाव में सहायक होते है।

10:बवासीर में चुकन्दर के फायदे (Piles)

चुकन्दर के जड़ के चूर्ण को घी के साथ 21 दिनों तक सेवन करने से बवासीर में लाभ होता है। इसके अलावा चुकन्दर का काढ़ा (chukandar ka juice) बनाकर 10-30 मिली काढ़ा को सुबह भोजन के 1 घंटा पहले तथा रात में सोते समय पीने से कब्ज तथा रक्तार्श (खूनी बवासीर)  में लाभ होता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here